महिलाओ के ब्रेस्ट को दबाने से उन पर पड़ने वाले प्रभाव!

जब कोई महिला वजन उठाती है या वो गर्भवती या स्तनपान कराती है, तो ऐसे में स्तनों का आकर थोड़ा बढ़ जाता है। एक्सरसाइज़ करने से बॉडी को अच्छा शेप मिलता है और ब्रेस्ट ज्यादा आकर्षक लगते हैं लेकिन उनका साइज़ नहीं बढ़ता है। किसी ऑइंटमेंट या क्रीम से भी इनका आकार नहीं बढ़ता। वास्तव में ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने का एकमात्र रास्ता ब्रेस्ट इम्प्लांट ही है।

महिलाओ के ब्रेस्ट को दबाने से उन पर पड़ने वाले प्रभाव!

आपके स्तन का साइज़ महीने पर भी निर्धारित हो सकता है: हर महीने, आपके हारमोंस आपके स्तनों को गर्भधारण के लिए तैयार करते हैं। महीने … आपके स्तन के साइज़ और आकार से उनकेज़्यादा संवेदनशील होने का कोई लेना-देना नहीं है। और यह … इसका कारण है की स्तन का योनि तक तांत्रिक प्रभाव होता है जो की दिमाग के उस भाग तक जुड़ता है

stmd11

यदि इन उभरे हुए स्तनों को दबाया जाए तो 1-2 बूंदे दूध की भी निकलती है। यह दूध मां के इस्ट्रोजन हार्मोन के प्रभाव केकारण होता है और जिसे आम भाषा में जादूगरनी का दूध कहकर पुकारा जाता है। … महिलाओं के स्तनों का निप्पल मुलायम होना चाहिए जिससे बच्चे को दूध पीने में अधिक ताकत न लगानी पड़े।

 

1-23

 

 एक्सरसाइज़ करने से बॉडी को अच्छा शेप मिलता है

5-20

ब्रेस्ट ज्यादा आकर्षक लगते हैं लेकिन उनका साइज़ नहीं बढ़ता है।

3-21

जब कोई महिला वजन उठाती है या वो गर्भवती या स्तनपान कराती है, तो ऐसे में स्तनों का आकर थोड़ा बढ़ जाता है। एक्सरसाइज़ करने से बॉडी को अच्छा शेप मिलता है और ब्रेस्ट ज्यादा आकर्षक लगते हैं लेकिन उनका साइज़ नहीं बढ़ता है। किसी …

4-22

SHARE

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY